देव दीपावली पर आस्था के दीपक जलाए।

देव दीपावली पर आस्था के दीपक जलाए।

कार्तिक शुक्ल पूर्णिमा के रूप में मनाई गई देव दीपावली (Dev Diwali)।

जयपुर (न्यूज़ अपना टोंक) – कार्तिक शुक्ल पूर्णिमा देव दीपावली (Dev Diwali) के रूप में मनाई गई। श्रद्धालुओं ने सुबह गलता तीर्थ में डुबकी लगाई और जो श्रद्धालु गलता व अन्य तीर्थ पर स्नान नहीं कर पाए। उन श्रद्धालुओं ने तारों की छांव में घर पर गंगाजल को पानी में मिलाकर स्नान किया। कार्तिक पूर्णिमा के साथ कार्तिक स्नान का समापन हुआ। सूर्य भगवान को स्नान के बाद मंत्र जप करते हुए अर्घ्य दिया। मंदिर में जाकर भोलेनाथ का अभिषेक किया गया। शाम को मंदिरों व घरों में दीपदान किया गया। श्रद्धालुओं ने भगवान सत्यनारायण की कथा सुनी और व्रत भी रखा।

Read More – विधानसभा चुनाव में हुआ 75.45 फीसदी मतदान।

ज्योतिषाचार्य डॉ. महेंद्र मिश्रा ने बताया हैं कि श्रद्धालुओं ने देव दीपावली (Dev Diwali) पर परिघ, रवि व शिव तीन योग रहने से भगवान विष्णु का पूजन किया। भगवान भोलेनाथ का प्रदोष काल में शाम को अभिषेक किया गया। और श्रद्धालुओं द्वारा पूर्णिमा पर दान-पुण्य किया गया। श्रद्धालुओं ने बढ़ चढकर अनाज, दाल, फल, चावल, गर्म वस्त्रों का दान किया। कई श्रद्धालुओं ने गोशाला में धन का दान व हरी घास का दान किया। शाम को छोटीकाशी के मंदिरों में दीपदान होने से देवालय दिवाली की तरह जगमगा उठे। चौराहों, तुलसी के पौधों और पीपल के पेड़ पर दीपदान किया गया।

Read More – सभी प्रकार की सरकारी योजनाओ के लिए यहाँ देखे – sarkariyojnaye.org

Spread the love
Avatar

Vimal Jola

विमल जौला निवाई शहर के न्यूज़ रिपोर्टर है। जिनका मुख्य उद्देश्य निवाई तहसील के आस पास की सभी खबरों को जन जन तक पहुंचाना एवं जनता को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करना है। अपने आस पास की ख़बरों, लेखों एवं विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें - 8104889200, 9251566935

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *